Haal-E-Dil

Murder 2 (2011)

Movie: Murder 2
Year: 2011
Director: Mohit Suri
Music: Harshit Saxena
Lyrics: Mithoon
Singers: Harshit Saxena

 

है काश काश यूँ होता
हर शाम साथ तू होता
चुप चाप दिल ना यूँ रोता
हर शाम साथ तू होता
गुज़ारा हो तेरे बिन गुज़ारा
अब मुश्किल है लगता
नज़ारा हो तेरा ही नज़ारा
अब हर दिन है लगता

हाल-ए-दिल तुझको सुनाता
दिल अगर ये बोल पाता
बाख़ुदा तुझको है चाहता जा
तेरे संग जो पल बिताता
वक़्त से मैं वो मांग लाता
याद करके मुस्कुराता हाँ
हो ओ ओ ओ…
हो ओ ओ ओ…

तू मेरी राह का सितारा
तेरे बिना हूँ मैं आवारा
जब भी तन्हाई ने सताया
तुझको बेसाख्ता पुकारा
चाहत है मेरी लापनाह
पर मेरी जां दिल में हूँ रखता हाँ हाँ हाँ
हाल-ए-दिल तुझको सुनाता
दिल अगर ये बोल पाता
बाख़ुदा तुझको है चाहता जा
तेरे संग जो पल बिताता
वक़्त से मैं वो मांग लाता
याद करके मुस्कुराता
हो ओ ओ ओ…
हो ओ ओ ओ…

ख्वाबून का कब तक लूँ सहारा
अब तो तू आ भी जा खुदारा
मेरी ये दोनों पागल आँखें
हर पल मांगे तेरा नज़ारा
समझों इनको किस तरह
इनपे मेरा बस नहीं चलता हाँ हाँ हाँ
हाल-ए-दिल तुझको सुनाता
दिल अगर ये बोल पाता
बाख़ुदा तुझको है चाहता जा
तेरे संग जो पल बिताता
वक़्त से मैं वो मांग लाता
याद करके मुस्कुराता हाँ हाँ
हो ओ ओ ओ…
हो ओ ओ ओ…

Other songs from Murder 2 (2011)


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Bollywood Ke Bol (बॉलीवुड के बोल)
%d bloggers like this: