Madno Re

Lamhaa (2010)

Movie: Lamhaa
Year: 2010
Director: Rahul Dholakia
Music: Mithoon
Lyrics: Sayeed Quadri, Amitabh Varma
Singers: Kshitij Tarey, Chinmayi

 

मदनो माशूको
है दिल को तेरी आरज़ू
पर में तुझे ना पा सकूँ

है दिल को तेरी जुस्तजू
पर में तुझे ना पा सकूँ

मैं हूँ शब् तू सुबह
दोनों जुड़ के जुदा
मैं हूँ लब तू दुआ
दोनों जुड़ के जुदा
मदनो माशूको दिलबरो मदनो रे

है दिल को तेरी आरज़ू
पर में तुझे ना पा सकूँ
है दिल को तेरी जुस्तजू
पर में तुझे ना पा सकूँ

मैं हूँ शब् तू सुबह
दोनों जुड़ के जुदा
मैं हूँ लब तू दुआ
दोनों जुड़ के जुदा
मदनो माशूको दिलबरो मदनो रे

कई ख्वाब दिल तुझको ले कर सजाये
पर खौफ ये भी कहीं पर सताए
गर ये भी टूटे तो फिर होगा क्या रे
मुझे रास आती है खुशियाँ कहाँ रे
क्यूँ दिल को दुखाना बेवजह मदनो रे
क्यूँ दिल को दुखाना बेवजह
फिर आँसू बहाना ईक दफा
फिर आँसू बहाना ईक दफा

मैं हूँ शब् तू सुबह
दोनों जुड़ के जुदा
मैं हूँ लब तू दुआ
दोनों जुड़ के जुदा
मदनो माशूको दिलबरो मदनो रे

तू ही तो हर बंधा है
लम्हों की इन जंजीरों में
तू ही तो हर दम रहा है
खवाबों की हर ताबीरों में
तू ही तो हर दिन दिखा है
दुँधली या उजली तस्वीरों में

तेरी ही तो है खुशबू मुझे में हाँ मदनो रे
तेरी ही तो है खुशबू मुझे में हाँ
अब तू ही तो हरसू हर जगह
अब तू ही तो हरसू हर जगह

बह चूस शब् छे सुबह
मीलत दोश्वय जुदा
बह चूस लब छे दुआ
मीलत दोश्वय जुदा
मदनो माशूको दिलबरो मदनो रे

हाँ तेरा साया तो मैं हूँ
पर संग तेरे ना रेह सकूँ
हाँ इस सफर में तो मैं हूँ
पर संग तेरे ना रुक सकूँ

मैं हूँ शब् तू सुबह
दोनों जुड़ के जुदा
मैं हूँ लब तू दुआ
दोनों जुड़ के जुदा
मदनो माशूको दिलबरो मदनो रे

माहिया वे, माहिया वे, माहिया वे
माहिया वे, माहिया वे, माहिया वे

madano maashuko
hai dil ko teri aarazu
par mein tujhe na pa sakun

hai dil ko teri justaju
par mein tujhe na pa sakun

main hun shab tu subah
donon jud ke juda
main hun lab tu dua
donon jud ke juda
madano maashuko dilabaro madano re

hai dil ko teri aarazu
par mein tujhe na pa sakun
hai dil ko teri justaju
par mein tujhe na pa sakun

main hun shab tu subah
donon jud ke juda
main hun lab tu dua
donon jud ke juda
madano maashuko dilabaro madano re

kai khvaab dil tujhako le kar sajaaye
par khauph ye bhi kahin par satae
gar ye bhi tute to phir hoga kya re
mujhe raas aati hai khushiyaan kahaan re
kyun dil ko dukhaana bevajah madano re
kyun dil ko dukhaana bevajah
phir aansu bahaana ik dapha
phir aansu bahaana ik dapha

main hun shab tu subah
donon jud ke juda
main hun lab tu dua
donon jud ke juda
madano maashuko dilabaro madano re

tu hi to har bandha hai
lamhon ki in janjiron mein
tu hi to har dam raha hai
khavaabon ki har taabiron mein
tu hi to har din dikha hai
dundhali ya ujali tasviron mein

teri hi to hai khushabu mujhe mein haan madano re
teri hi to hai khushabu mujhe mein haan
ab tu hi to harasu har jagah
ab tu hi to harasu har jagah

bah chus shab chhe subah
milat doshvay juda
bah chus lab chhe dua
milat doshvay juda
madano maashuko dilabaro madano re

haan tera saaya to main hun
par sang tere na reh sakun
haan is saphar mein to main hun
par sang tere na ruk sakun

main hun shab tu subah
donon jud ke juda
main hun lab tu dua
donon jud ke juda
madano maashuko dilabaro madano re

maahiya ve, maahiya ve, maahiya ve
maahiya ve, maahiya ve, maahiya ve

Other songs from Lamhaa (2010)


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!
%d bloggers like this: